Shayri

रात भर तारीफ करता रहा तेरी चाँद से चाँद इतना जला की सुबह तक सूरज हो गया..

कैसे जाने दे उसको……. एक महीने मे 500 के गोलगप्पे खिलाकर

लड़कियों की बात छोडो मुझे तो टीचर भी कहती थी, वहाँ से उठो और मेरे सामने आकर बैठो !!

सिर्फ सांसे चलते रहने को ही ज़िन्दगी नही कहते आँखों में कुछ ख़वाब और दिल में उम्मीदे होना जरूरी है

जलील न किया_करो किसी फ़क़ीर को अपनी चौखट से साहब, वो सिर्फ भीख लेने नहीं दुआ देने भी आता है ।।

इंडिया में लड़की गर्लफ्रंड बाद में बनती है., सारे दोस्तों की भाभी पहले बन जाती है

सच्ची है मेरी दोस्ती आजमा के देखलो, करके यकीं मुझ पे मेरे पास आके देखलो, बदलता नहीं कभी सोना अपना रंग, जितनी बार दिल करे आग लगा कर देखलो।

गम को बेचकर खुशी खरीद लेगे, ख्याबो को बेचकर जिन्दगी खरीदलेगें ,होगी इम्तहान तो देखेगी दुनिया, खुद को बेचकर आपकी दोस्ती खरीद लेगे.

धोखा देने की बात मत कर पगली, यहाँ Wish पूरी ना होने पे लोग भगवान बदल देते है...तो तू क्या चीज है.

सिर्फ सांसे चलते रहने को ही ज़िन्दगी नही कहते आँखों में कुछ ख़वाब और दिल में उम्मीदे होना जरूरी है

ना पेशी होगी, न गवाह होगा, अब जो भी हमसे उलझेगा बस सीधा तबाह होगा

तरसाया फूलों की महक ने पर काटो की चुभन अच्छी लगी इस दिल को टूटने का कोई गम नहीं पर मेरे दिल को गुमसुदा करने की अदा अच्छा लगी

समुद्र मे भरे पानी कितना भी हो पर पिया नहीं जाता पर जिंदगी मे कितना भी प्यारा दोस्त हो पर आप को भुलया नहीं जाता

यह जिंदगी नहीं है हमें आप से प्यारी आप पे फ़िदा है जान हमारी आखो मैं आशु है तो क्या हुआ हमारे पर जान से प्यारी है मुस्कान तुम्हारी

गीत की जरूरत महफ़िल में होती है प्यार की जरूरत हर दिल मे होती है बिना महबूब की अधूरी है ज़िंदगी क्यों की आप जैसे दोस्त की जरुरत हर किसी के दिल मे होती है

आप की जिंदगी मे कभी गम न हो आप की आखे कभी नम न हो मिले आप को ज़िंदगी की हर खुशी भले उसमे हम न हो

वक्त की नजाकत से तकदीर बदल जाती है पलक झपकते ही तस्बीर बदल जाती है किसकी तक़दीर किसकी तस्बीर है तस्बीर से ही किसी की तक़दीर बदल जाती है

0 comments:

Post a Comment